सदस्य बनने के लिए यहाँ क्लिक करे । निःशुल्क रक्तदान सेवा | निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा । निःशुल्क क़ानूनी सहायता । सेवाओं के लिए संपर्क करे -1800 -8896 -220

23 मार्च 2018 को शहीदी दिवस के अवसर पर संस्था द्वारा निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा प्रारम्भ किया गया। संस्था बीमार व्यक्ति को तुरंत अस्पताल तक पहुंचने के लिए एम्बुलेंस सेवा को लेकर आगे आई है, जिससे कि असुविधाओं के चलते और सही समय पर स्वास्थ्य लाभ व उपचार न मिलने की वजह से किसी इंसान को अपने जान से हाथ न धोना पड़े।

निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा शुरू करने के पीछे मकसद है कि लोगों को सही समय पर बिना वक़्त गवाएं उनको उपचार के लिए तुरंत अस्पताल तक पंहुचना। तथा हम इसके माध्यम से समाज के उन सक्षम लोगों को संदेश देना चाहते हैं, जिनके पास उनके जरूरत से ज्यादा पैसा होता है लेकिन खर्च करने का सही तरीका उन्हें नहीं पता। हम चाहते हैं कि ऐसे लोग समाज से निकल कर आगे आएं जो पूरा देश नहीं बल्कि अपने-अपने गांव की जिम्मेदारी लें और हमारे द्वारा शुरू की गई निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा के मॉडल को अपने-अपने गांव में लागू करें।
हमने आदर्श के तौर पर जो निःशुल्क एम्बुलेंस सेवा शुरू की है – वो राष्ट्रीय राजमार्ग 8 (नेशनल हाईवे – 8) पर खेड़ा बैरियर(Rajsthan Border) से लेकर बनीपुर चौक तक हाईवे के हिस्से को कवर करती है, तथा आस-पास के 25 गांवों को भी कवर करती है, जिनके नाम निम्न हैं –

  • खेड़ा बैरियर
  • चांदूवास
  • मोहन पुर
  • ओढ़ी नांगलिया
  • सांजरपुर
  • भड़ंगी
  • साबन
  • आसरा का माजरा
  • बालावास
  • सुलखा
  • नचाना
  • खरखड़ी
  • मोहम्मदपुर
  • हरचंद पुर
  • कालड़ावास
  • रूध
  • अन्धपुर
  • केशोपुर
  • डालूसिंह खेड़ी
  • रसियावास
  • बावल

हम प्रत्येक व्यक्ति तक एम्बुलेंस सेवा निःशुल्क पंहुचाने के लक्ष्य को लेकर आगे बढ़े हैं।
हमारा मानना है कि – “मानव सेवा ही सर्वश्रेष्ठ सेवा है, मानवता की पूजा ही ईश्वर की सच्ची पूजा है।” और यही राष्ट्र के प्रति सच्ची भक्ति है। मानवता की सेवा करने के संदेश को हम समाज के आखिरी व्यक्ति तक पंहुचाने के लिए संकल्पित हैं।